देश भर में कोरोना वायरस के मरीजों का आंकड़ा पांच लाख पार करने के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि भारत इस संकट के मामले में दुनिया के कई देशों से बेहतर स्थिति है. उनके मुताबिक इस साल की शुरुआत में अनुमान लगाया गया था कि कोरोना वायरस का असर भारत पर सबसे अधिक पड़ेगा, लेकिन लॉकडाउन, सरकार के प्रयासों और लोगों के संघर्ष के कारण वह कई और देशों से बेहतर स्थिति में है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यह भी कहना था कि भारत का रिकवरी रेट बढ़ रहा है. उन्होंने कहा, ‘लोगों के संघर्ष ने अच्छे परिणाम दिए हैं लेकिन, अभी यहीं नहीं रुकना होगा बल्कि अब और ज्यादा सावधान रहना होगा.’

उधर, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए कहा है कि सरकार के पास कोरोना वायरस संकट से लड़ने के लिए कोई योजना नहीं है. आज एक ट्वीट में उन्होंने कहा, ‘कोविड-19 देश के नए-नए हिस्सों में तेजी से फैल रहा है. भारत सरकार के पास इसे हराने के लिए कोई योजना नहीं है. प्रधानमंत्री चुप हैं. उन्होंने समर्पण कर दिया है और वे महामारी से लड़ने में असमर्थ हैं.’

भारत में कोरोना वायरस के मामले हर दिन नया रिकॉर्ड बना रहे हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक बीते 24 घंटे के दौरान संक्रमण के 18552 मामले दर्ज किए गए. यह इस अवधि के दौरान नए मामलों की अब तक की सबसे बड़ी संख्या है. इसके साथ ही कोरोना वायरस के कुल मामलों का आंकड़ा पांच लाख को पार (508953) कर गया है. इनमें से करीब दो लाख सक्रिय मामले हैं और तीन लाख ऐसे हैं जिनमें मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं. बीते 24 घंटे के दौरान 384 मरीजों की मौत भी हुई है और इसके साथ ही भारत में कुल मौतों का आंकड़ा 15,685 हो गया है.