कराची में पाकिस्तान स्टॉक एक्सचेंज पर हुए एक आतंकी हमले में 10 लोग मारे गए हैं. बताया जा रहा है कि आज सुबह चार बंदूकधारी ग्रेनेड फेंकते हुए स्टॉक एक्सचेंज की इमारत में दाखिल हो गए. इसके बाद उनकी सुरक्षा बलों से मुठभेड़ हुई. स्टॉक एक्सचेंज के निदेशक अदीब अली हबीब ने जियो टीवी से कहा कि हमलावर इमारत के ट्रेडिंग हॉल में भी घुस आए थे और उन्होंने गोलीबारी की जिससे अफरा-तफरी मच गई. स्थानीय अधिकारियों के मुताबिक सभी चार बंदूकधारी मार गिराए गए हैं. हमले में छह अन्य लोगों की मौत भी हुई है. कई लोग घायल भी हुए हैं जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

इस हमले की जिम्मेदारी प्रतिबंधित संगठन बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी ने ली है. उसके प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि समूह की माजिद ब्रिगेड ने आत्मघाती हमले को अंजाम दिया है. उधर, सिंध के गवर्नर इमरान इस्माइल ने एक ट्वीट कर इस हमले की निंदा की है. उन्होंने लिखा, ‘मैं पाकिस्तान स्टॉक एक्सचेंज पर हमले की कड़ी निंदा करता हूं. इसका मकसद आतंक के खिलाफ हमारी कठोर जंग को बदनाम करना है. आईजी और सुरक्षा एजेंसियों को ये सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं कि मुजरिमों को जीवित पकड़ा जाए और उनके आकाओं को ऐसी सजा दी जाए जो मिसाल बने. हम हर कीमत पर सिंध की हिफाजत करेंगे.’

कराची स्टॉक एक्सचेंज पाकिस्तान का सबसे बड़ा स्टॉक मार्केट है. इसकी इमारत उच्च सुरक्षा वाले इलाके में है. इसमें कई बड़े बैंकों के मुख्यालय भी हैं.