भारत में कोरोना वायरस के मामलों ने एक नया रिकॉर्ड बना दिया है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक बीते 24 घंटे के दौरान संक्रमण के 24,879 नये मामले दर्ज किये गए हैं. इसी दौरान कोरोना वायरस से 487 लोगों की मौत की खबर भी आई है. इसके साथ ही भारत में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर सात लाख 67 हजार 296 हो गए हैं. मरने वालों की संख्या अब 21,129 हो गई है.

भारत में कोरोना वायरस के कुल मामलों में से करीब दो लाख 70 हजार अभी सक्रिय हैं. यानी इन लोगों में संक्रमण के लक्षण दिख रहे हैं. वहीं पौने पांच लाख से ज्यादा लोग संक्रमण से पूरी तरह ठीक हो चुके हैं. यानी रिकवरी रेट 61 फीसदी से ज्यादा हो चुका है. पूरी दुनिया की बात करें तो कोरोना वायरस के मामलों का आंकड़ा एक करोड़ 20 लाख से अधिक हो गया है. मरने वालों की तादाद पांच लाख 48 हजार से ऊपर चली गई है. सबसे ज्यादा प्रभावित अमेरिका है जहां कोरोना वायरस के मामले 30 लाख से ज्यादा हो गए हैं.

उधर, चैरिटी संस्था ऑक्सफैम ने चेताया है कि अब कोरोना वायरस की तुलना में इस महामारी से उपजे हालात के चलते ज्यादा मौतें हो सकती हैं. उसका कहना है कि इस साल के आखिर तक वायरस से जुड़ी भुखमरी के कारण हर दिन 12 हजार लोगों की जान जा सकती है. ऑक्सफैम ने संभावना जताई है कि यह आंकड़ा हर दिन बीमारी से मरने वालों की संख्या से अधिक होगा. उसके मुताबिक बड़ी संख्या में बेरोजगारी, लॉ़कडाउन के कारण खाद्यान्न उत्पादकों की परेशानी और मदद पहुंचाने में दिक्कत भुखमरी बढ़ने की वजहें होंगी. उसके मुताबिक कांगो, अफग़ानिस्तान, वेनेज़ुएला, इथियोपिया, दक्षिणी सूडान, सीरिया, सूडान और हेती इस लिहाज से संवेदनशील देश होंगे.