राजस्थान में सियासी घटनाक्रम थोड़े-थोड़े अंतराल में नए-नए मोड़ ले रहा है. खबरों के मुताबिक राजस्थान पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) ने केंद्रीय मंत्री गजेंद्र शेखावत के अलावा कांग्रेस विधायक भंवरलाल शर्मा और संजय जैन नाम के एक कारोबारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है. कल एक प्रेस कांफ्रेंस में कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला कुछ ऑडियो टेप जारी किए थे. उनका दावा था कि इनमें भंवरलाल शर्मा, संजय जैन और गजेंद्र शेखावत की आवाज है. रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि जो टेप सामने आए हैं उनसे साफ है कि भाजपा द्वारा जनमत के अपहरण की कोशिश की जा रही है. इसके बाद पार्टी के मुख्य सचेतक महेश जोशी ने एसओजी में दो एफआईआर दर्ज करवाई थीं.

कल की प्रेस कॉन्फ्रेंस में रणदीप सुरजेवाला ने भंवरलाल शर्मा सहित अपने दो विधायकों को पार्टी से निलंबित किए जाने की घोषणा भी की. उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस का फैसला है कि भंवरलाल और विश्वेंद्र सिंह को पार्टी से निलंबित किया गया है और उन्हें कारण बताओ नोटिस दिया गया है.’ रणदीप सुरजेवाला ने यह भी कहा कि पार्टी ने सचिन पायलट से भी सामने आकर अपना रुख साफ करने को कहा है. उधर, अपने समर्थक 19 विधायकों के साथ बगावती रुख अपनाए सचिन पायलट ने कांग्रेस नेता पी चिदंबरम से बात की है. पूर्व केंद्रीय मंत्री के मुताबिक उन्होंने सचिन पायलट को पार्टी के नेतृत्व से बात करने की सलाह दी. सचिन पायलट को राजस्थान कांग्रेस के मुखिया और राज्य के उपमुख्यमंत्री पद से हटाया जा चुका है.

उधर, गजेंद्र शेखावत ने कहा कि ऑडियो में सुनाई दे रही आवाज उनकी नहीं है. उन्होंने यह भी कहा कि वे हर तरह की जांच के लिए तैयार हैं. उनकी पार्टी भाजपा ने भी इसे चरित्रहनन का प्रयास बताया है.