बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत को एक महीने से ज्यादा वक्त बीत चुका है. लेकिन उनसे जुड़ी चर्चाएं अब भी थमने का नाम नहीं ले रही हैं. रोज़ाना मीडिया में उनसे जुड़ी कोई न कोई बात सुर्खियां बटोर रही होती है या फिर वे किसी न किसी तरह सोशल मीडिया की ट्रेंडिंग लिस्ट का हिस्सा बने होते हैं. उनसे जुड़ी हालिया खबर न सिर्फ सबसे अलग है बल्कि थोड़ा चौंकाती भी है. अमेरिका के पैरानॉर्मल एक्सपर्ट यानी असामान्य घटनाओं की जानकारी रखने का दावा करने वाले - जिनमें मृत्यु के बाद का जीवन भी शामिल है - स्टीव हफ ने सुशांत सिंह राजपूत की आत्मा से संपर्क करने का दावा किया है. बीते हफ्ते जारी किए गए कुछ यूट्यूब वीडियोज में वे कथित रूप से एक आत्मा से बात करते दिखाई देते हैं जिसके बारे में उनका दावा है कि वह सुशांत सिंह राजपूत की आत्मा है.

सिर्फ दो-तीन दिनों में ही 30 लाख से ज्यादा व्यूज बटोर उनके एक वीडियो में स्टीव हफ सुशांत सिंह राजपूत की बताई जा रही आत्मा से उनकी मौत से जुड़े कई सवाल पूछते दिखाई देते हैं. स्टीव के यह पूछने पर कि ‘क्या आप मुझे बता सकते हैं कि आपकी मौत वाली रात को क्या हुआ?’ जवाब मिलता है, ‘कई लोगों से झगड़ा.’ इसी तरह के कई और सवालों के गोल-मोल जवाब यहां पर सुनाई देते हैं. अगर एक बार को इस बातचीत को सच मानकर भी सुना जाए तो भी इससे कोई नई या ऐसी ठोस जानकारी नहीं पता चलती है, जो अब तक पब्लिक डोमेन में न हो. इन बातों से उनमें से किसी भी कयास को विराम नहीं मिलता जो पिछले एक महीने से लगातार लगाये जा रहे हैं.

Play

इस वीडियो पर की गई एक टिप्पणी में स्टीव हफ इसकी सफाई देते भी देखे जा सकते हैं. वे कहते हैं कि ‘ध्यान दीजिए कि मैंने कई सवाल पूछे थे लेकिन आत्मा ने सभी के जवाब नहीं दिए. मैने और डिटेल्स निकालने की कोशिश की लेकिन जो आप वीडियो में देख रहे हैं, उससे अधिक कुछ नहीं जान सका. मेरा यकीन है कि आत्माओं को इस तरह की बातें करने की अनुमति नहीं होती है. दस सालों से मैं यह काम कर रहा हूं लेकिन कभी कोई आत्मा स्पेसिफिक डिटेल्स नहीं देती है या शायद उन्हें याद नहीं रहता है.’ इस टिप्पणी में स्टीव हफ आत्माओं को एनर्जी यानी ऊर्जा बताते हुए कहते हैं कि ‘आत्माएं उसी एनर्जी से बनी होती हैं जो हमारे भीतर हैं. वे मेरी डिवाइस के जरिए मुझसे संपर्क कर पाती हैं, बातचीत करती हैं लेकिन वे हमारी तरह भौतिक नहीं होती हैं.’ स्टीव हफ अपने वीडियोज में अक्सर ही इस तरह की बातें कहते दिखते हैं और इस बात का कारण बताने की कोशिश करते हैं कि क्यों कोई भी आत्मा स्पष्ट बातें नहीं कहती है या उनके जरिए कोई दबा-छिपा रहस्य क्यों उजागर नहीं किया जा सकता है.

पैरानॉर्मल एक्सपर्ट स्टीव हफ अमेरिका के एरिज़ोना स्टेट में रहते हैं और सोशल मीडिया के जरिए लोगों तक पैरानॉर्मल गतिविधियों की जानकारी शेयर करते हैं. यूट्यूब पर 13 लाख से ज्यादा फॉलोअर्स वाले स्टीव हफ बीते कई सालों से आत्माओं से संपर्क करने, उनसे बात करने और उनकी तस्वीरें खींचने का दावा करते रहे हैं. अपने इस शौक के चलते वे कुछ साल पहले अमेरिका की पॉपुलर रियलिटी सीरीज ‘पैरानॉर्मल लॉकडाउन’ में भी नज़र आ चुके हैं. सुशांत सिंह राजपूत के मामले में उनका कहना है कि उन्हें बहुत सारे लोगों ने मैसेज भेजकर उनकी आत्मा से संपर्क करने का आग्रह किया था. सुशांत से पहले स्टीव हफ हॉलीवुड एक्टर रॉबिन विलियम्स, गायक माइकल जैक्सन और वैज्ञानिक थॉमस अल्वा एडीसन जैसी अनगिनत हस्तियों से हुई कथित बातचीत के वीडियो भी जारी कर चुके हैं.

यूट्यूब चैनल के अलावा, स्टीव हफ वेबपोर्टल हफ पैरानॉर्मल डॉट कॉम भी चलाते हैं. इस पर उन्होंने अपने पैरानॉर्मल साइंटिस्ट बनने के कई अनुभव बांटे हैं. इनमें से ज्यादातर अनुभव जहां एंजेल, डेविल और आत्माओं से बातचीत का दावा करने वाले हैं. वहीं, कई ऐसे भी हैं जिनमें कई ऐसी इलेक्ट्रॉनिक-रेडियो डिवाइसेज की जानकारी दी गई है जिनका इस्तेमाल पैरानॉर्मल गतिविधियों को रिकॉर्ड करने में किया जाता है. स्टीव हफ अपने वेबपोर्टल पर यह घोषणा भी करते हैं कि वे यहां पर जो भी पोस्ट करते हैं, वह नकली या किसी सनके हुए दिमाग की कल्पना नहीं बल्कि वास्तविक घटनाएं हैं.

इसके अलावा वे स्टीव हफ फोटो डॉट कॉम भी चलाते हैं, यहां वे तमाम तस्वीरें शेयर करते और अलग-अलग तरह के कैमरों पर बातचीत या उनकी समीक्षा करते दिखते हैं. इस वेबसाइट पर तो वे तस्वीरें खींचने के शौकीन किसी आम फोटोग्राफर जैसे ही नजर आते हैं. लेकिन उनके शौक से जुड़ी खास बात यह है कि वे कथित तौर पर पैरानॉर्मल छवियों और दृश्यों को भी अपने कैमरे में कैद करने की कोशिश करते रहते हैं. पैरानॉर्मल गतिविधियों वाली उनकी वेबसाइट पर मौजूद ऐसी सबसे ध्यान खींचने वाली तस्वीरों में से एक उनके पालतू कुत्ते की आत्मा की तस्वीर है.

खुद को इंस्ट्रूमेंटल ट्रांस कम्युनिकेशन (आईटीसी) रिसर्चर बताने वाले स्टीव के मुताबिक उन्होंने आठ साल की मेहनत के बाद एक डिवाइस बनाई है जो आत्माओं की बातचीत को स्पष्ट ऑडियो में बदल सकती है. इसे उन्होंने हफ स्पिरिट बॉक्स नाम दिया है. यह स्पिरिट कम्युनिकेशन डिवाइस तीन स्टार रेटिंग के साथ एमेजॉन.कॉम पर भी बेची जा रही है, लेकिन इस समय यह आउट ऑफ स्टॉक है. इस डिवाइस के डेस्क्रिप्शन में ‘एंटरटेनमेंट पर्पज ओनली’ लिखा गया है जिसके बारे में बताते हुए हफ अपनी वेबसाइट पर लिखते हैं कि केवल यह डिवाइस भर आत्माओं से संपर्क करने के लिए काफी नहीं है इसलिए किसी भी तरह के विवाद से बचने के लिए यह लाइन डिवाइस के डेस्क्रिप्शन में जोड़ दी गई है.

स्टीव हफ से पहले कई भारतीय पैरानॉर्मल एक्सपर्ट्स ने भी सुशांत सिंह राजपूत की आत्मा से संपर्क करने का दावा किया था. हालांकि वे भी कोई नई या ठोस बात कह पाने में सफल नहीं हो सके थे. लेकिन उन संपर्कों में उनसे सीधी बातचीत होने की बात नहीं कही गई थी. इन दिनों यूट्यूब समेत तमाम सोशल मीडिया मंचों पर पैरानॉर्मल एक्सपर्ट, टैरो कार्ड रीडर, मेंटल काउंसलर जैसे प्रोफेशनल्स के उन वीडियोज की भरमार देखी जा सकती है जिनमें वे राजपूत की मौत या उससे जुड़े रहस्यों पर बात करते दिखाई देते हैं.

Play