ललित मोदी की मदद को लेकर कांग्रेस के आरोपों का सामना कर रही केंद्र सरकार ने उस पर जोरदार पलटवार किया है. वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस पर ललित मोदी को बचाने का आरोप लगाते हुए कहा है कि उनके (ललित मोदी) खिलाफ साल 2009-10 में जिस फेमा कानून  के तहत मामला दर्ज किया गया था, उसमें गिरफ्तारी का प्रावधान ही नहीं है. जेटली ने कहा कि जिस वक्त यह मामला दर्ज किया गया तब केंद्र में कांग्रेस की अगुवाई वाली यूपीए सरकार थी. जेटली ने सवाल उठाते हुए कहा कि यदि कांग्रेस वाकई ललित मोदी की गिरफ्तारी को लेकर इतनी गंभीर थी तो उसने तब उनके खिलाफ रेड कार्नर नोटिस जारी क्यों नहीं किया. जेटली ने इसके साथ ही विपक्ष के आरोपों को बेदम बताते हुए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के इस्तीफे की मांग को भी खारिज कर दिया. इससे पहले कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री की चुप्पी पर सवाल उठाते हुए उनसे इस मामले में स्पष्टीकरण देने की मांग की थी.


'मुझे प्रवर्तन निदेशालय से आज की तारीख तक कोई सम्मन नहीं मिला है. मुझे बताया गया कि सम्मन ईमेल से भेजा गया है लेकिन मुझे तो कोई मेल नहीं मिला.' - ललित मोदी

एक टीवी चैनल के साथ साक्षात्कार में



बिहार विधानसभा चुनाव में नीतीश-लालू की पार्टियां बराबर सीटों पर चुनाव लड़ेंगी
बिहार के आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर जेडीयू, आरजेडी और कांग्रेस के बीच सीटों का बंटवारा हो गया है. इस बंटवारे के तहत मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और लालू प्रसाद यादव की पार्टियां 100-100 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी. गठबंधन के तीसरे दल और बिहार में अस्तित्व के संकट से जूझ रही कांग्रेस पार्टी को 40 सीटें दी गई हैं. बाकी की तीन सीटों को लेकर अभी अंतिम फैसला लिया जाना बाकी है. नीतीश कुमार और लालू प्रसाद यादव ने एक संयुक्त प्रेस कांन्फेंस करके सीटों के बंटवारे की घोषणा की. उन्होंने अपनी जीत का दावा करते हुए कहा कि 30 अगस्त को बिहार के पटना मैदान में महागठबंधन की विशाल रैली का आयोजन किया जाएगा. आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव इस मौके पर भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधने से नहीं चूके. उन्होने कहा कि बिहार की जनता उनके डीएनए वाले बयान का जवाब चुनाव में देगी. आरजेडी और जेडीयू के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर बनी इस सहमति के बाद अब सभी की निगाहें एनडीए गठबंधन पर टिक गई हैं.
भारत ने पहले टेस्ट पर पकड़ बनाई
अपने स्टार स्पिनर आर अश्विन के बेहतरीन प्रदर्शन की बदौलत भारत ने मेजबान श्रीलंका को पहली पारी में 183 रनों पर समेटते हुए पहले टेस्ट मैच में अपनी पकड़ मजबूत कर ली है. इसके बाद अपनी पारी शुरू करते हुए भारत ने दो विकेट खोकर 128 रन भी बना लिए हैं. गाले में खेले जा रहे इस टेस्ट मैच में आर अश्विन ने 46 रन देकर कुल छह विकेट चटकाए. यह उनका विदेशी जमीन पर अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. श्रीलंका की तरफ से कप्तान एंजेला मैथ्यूज ही मैदान में टिक सके. उन्होंने 64 रन बनाए. भारत की तरफ से शिखर धवन 53 और कप्तान विराट कोहली 45 रनों के साथ नाबाद हैं.