यूरोप में शरणार्थी संकट गहराता जा रहा है. ताजा घटनाक्रम में हंगरी ने अपनी सीमा सील कर दी है और दो जिलो में इमरजेंसी लगा दी है. उसका कहना है कि जो भी उसकी सीमा के भीतर अवैध रूप से घुसने की कोशिश करेगा, उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा. हंगरी के प्रधानमंत्री विक्टर ऑरबन ने साफ कहा है कि सर्बिया से हंगरी आने वाले शरणार्थियों के शरण देने के आवेदन को स्वीकार नहीं किया जाएगा. इस साल अब तक करीब दो लाख शरणार्थी सर्बिया की सीमा से होकर हंगरी में आ चुके हैं. इनमें एक बड़ी संख्या युद्ध की विभीषिका से जूझ रहे सीरिया के नागरिकों की है. उधर, जर्मनी ने अगले हफ्ते यूरोपीय संघ के देशों की बैठक बुलाई है ताकि इस संकट से निपटा जा सके. दरअसल शरणार्थियों के मुद्दे पर यूरोप दो धड़ों में बंट गया है. जर्मनी और फ्रांस जैसे देश इन्हें शरण देने के पक्ष में हैं जबकि हंगरी और पोलैंड जैसे कई देश इसका विरोध कर रहे हैं.


'हमारे संबंध नई ऊंचाई तक पहुंच सकते हैं.'

रानिल विक्रमसिंघे, श्रीलंका के प्रधानमंत्री
भारत यात्रा के दौरान दिल्ली में हुए एक संवाददाता सम्मेलन में



उत्तर कोरिया ने परमाणु संयंत्र शुरू किया
अमेरिका को चेतावनी देते हुए उत्तर कोरिया ने कहा है कि उसका प्रमुख परमाणु संयंत्र यॉंगब्यॉन कांप्लेक्स अब पूरी तरह से चालू है. वहां की सरकारी एजेंसी केसीएनए का कहना है कि उत्तर कोरिया परमाणु हथियारों में संख्या और गुणवत्ता दोनों लिहाज से सुधार कर रहा है और वह कभी भी अमेरिका को परमाणु हथियारों से जवाब देने के लिए तैयार है. यॉंगब्यॉन रिएक्टर से वह प्लूटोनियम हासिल किया जा सकता है जो परमाणु हथियार कार्यक्रम के लिए जरूरी होता है. उत्तरी कोरिया 2006, 2009 और 2013 में परमाणु परीक्षण कर चुका है. अमेरिका और दुनिया की बाकी पांच बड़ी ताकतों के साथ उसकी बातचीत 2009 से ही बंद है.
20 सितंबर को नेपाल को नया संविधान मिलेगा
20 सितंबर को नेपाल को उसका नया संविधान मिल जाएगा. नए संविधान के लिए सात साल तक चली कोशिशों के बाद नेपाल का कहना है कि यह पूर्णत: लोकतांत्रिक और धर्मनिरपेक्ष होगा. 601 सदस्यीय संविधान सभा ने प्रस्तावित संविधान के अनुच्छेदों पर मतदान शुरू कर दिया है. अब तक 176 अनुच्छेदों का अनुमोदन हो गया है. विदेश मंत्री महेंद्र बहादुर पांडेय ने कहा है कि 20 सितंबर को नेपाल के राष्ट्रपति राम बरन यादव एक विशेष समारोह में पूर्ण लोकतांत्रिक संविधान को जारी करेंगे. संविधान सभा द्वारा नेपाल को फिर से हिन्दू राष्ट्र बनाने के प्रस्ताव को खारिज कर दिए जाने के बाद वहां विरोध प्रदर्शन हुए हैं. संघीय ढांचे को लेकर भी कई जगहों पर तनाव की स्थिति है.