मंगल पर पानी है और जीवन भी हो सकता है | सोमवार, 28 सितंबर 2015
काफी समय से जताई जा रही संभावनाओं की पुष्टि करते हुए अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने कहा कि मंगल ग्रह पर बहता हुआ पानी मौजूद है. वैज्ञानिकों के मुताबिक यह पानी इस ग्रह पर बनी घाटियों में गर्मियों के महीनों के दौरान बहता है. इस नई खोज से मंगल ग्रह पर जीवन के होने की संभावना भी बढ़ गई है क्योंकि तरल पानी की मौजूदगी से वहां जीवाणुओं के होने की उम्मीद भी जगती है. सतह के नजदीक पानी के स्रोतों की पहचान से भविष्य में मंगल पर जाने वाले अंतरिक्ष यात्रियों के लिए वहां रहना भी आसान हो सकता है.
क्यूबा की अमेरिका को दो टूक, गुआंतानामो लौटाओ और हर्जाना चुकाओ | मंगलवार, 29 सितंबर 2015
क्यूबा ने कहा है कि उसके और अमेरिका के बीच संबंध सामान्य होने की लंबी प्रक्रिया तभी अपने अंजाम तक पहुंचेगी जब अमेरिका गुआंतानामो उसे लौटा देगा. खबरों के मुताबिक क्यूबा के राष्ट्रपति राउल कास्त्रो ने कहा है कि इसके साथ अमेरिका को उनके देश पर 53 साल से लगे आर्थिक प्रतिबंधों के लिए हर्जाना भी देना होगा. गौरतलब है कि क्यूबा से लगते गुआंतानामो में अमेरिका ने एक विशाल नौसैनिक अड्डा बनाया हुआ है. 1959 में हुई कम्युनिस्ट क्रांति के चलते क्यूबा में बनी सरकार तब से ही इसका विरोध कर रही है. कास्त्रो का बयान इस लिहाज से भी अहम है कि 56 साल के लंबे अंतराल के बाद हाल ही में अमेरिका और क्यूबा के संबंध सामान्य होना शुरू हुए हैं.
चीन में ‘पार्सल बम’ धमाके, सात की मौत | बुधवार, 30 सितंबर 2015
चीन में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में सात लोगों की मौत हो गई और 50 से ज्यादा घायल हो गए. ये धमाके गुआंग्शी इलाक़े के दापू शहर में दो घंटे के भीतर हुए. खबरों के मुताबिक यहां कई जगहों पर ‘पार्सल बम’ रखे गए थे. अभी तक किसी संगठन ने इन धमाकों की जिम्मेदारी नहीं ली है. लेकिन चीन के राष्ट्रीय दिवस से एक दिन पहले हुई इस घटना के बाद संभावना जताई जा रही है कि इनके पीछे जिनजियांग प्रांत के अलगाववादी गुटों का हाथ हो सकता है.
सीरिया में चल रही लड़ाई में रूस के बाद अब ईरान भी कूदा | गुरुवार, 01 अक्टूबर 2015
सीरिया में चल रहा गृहयुद्ध अब तेजी से अंतर्राष्ट्रीय टकराव में बदलता दिख रहा है. राष्ट्रपति बशर अल असद की मदद करने के लिए वहां भारी संख्या में ईरानी सैनिक पहुंचने लगे हैं. खबरों के मुताबिक ये सैनिक असद का विरोध कर रहे विद्रोही गुटों और इस्लामिक स्टेट (आईएस) के खिलाफ जमीनी मोर्चा संभालेंगे. इससे पहले रूस ने असद की मदद करने के लिए सीरिया के बड़े हिस्से पर कब्जा जमाए आईएस के ठिकानों पर हवाई बमबारी शुरू कर दी है. अमेरिकी नेतृत्व वाली गठबंधन फौज पहले से ही सीरिया में है. गौरतलब है कि अमेरिका असद की सरकार को हटाना चाहता है, लेकिन रूस इसके विरोध में है.
नेपाल ने कहा, भारत जरूरी सामान आने दे | शुक्रवार, 02 अक्टूबर 2015
नेपाल ने भारत से अनुरोध किया है कि वह उसके यहां जरूरी सामानों की आपूर्ति होने दे. वहां के प्रधानमंत्री सुशील कोईराला ने कहा है कि देश के दक्षिण हिस्से में चल रही अस्थिरता के चलते बहुत ही मुश्किल स्थिति पैदा हो गई है क्योंकि बीते 50 दिन से आयात रुका पड़ा है. गौरतलब है कि नेपाल के नए संविधान का वहां के तराई हिस्से में रहने वाले मधेशी और थारू समुदाय विरोध कर रहे हैं. सड़कों पर आंदोलनकारियों के कब्जे के चलते भारत से नेपाल सामान ले जाने वाले सैकड़ों ट्रक सीमा पर अटके पड़े हैं.
अफगानिस्तान में अस्पताल पर अमेरिकी हमला, 19 की मौत | शनिवार, 03 अक्टूबर 2015
अफगानिस्तान में एक अस्पताल पर हुए हवाई हमले में 19 लोगों की मौत हो गई. कुंदुज शहर में एक अंतर्राष्ट्रीय संस्था द्वारा चलाए जा रहे अस्पताल पर यह हमला खबरों के मुताबिक अमेरिकी हवाई सेना ने किया. इसमें अस्पताल के 12 कर्मचारी और सात मरीज मारे गए जिनमें तीन बच्चे भी शामिल हैं. यह हमला अंतर्राष्ट्रीय कानूनों का गंभीर उल्लंघन बताया जा रहा है और संयुक्त राष्ट्र ने इसे अक्षम्य और संभवत: आपराधिक कार्रवाई करार देते हुए इसकी घोर निंदा की है. उधर, अमेरिका का कहना है कि वह इस घटना की जांच कर रहा है.