'भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश एक दिन फिर से एक हो जाएंगे और फिर अखंड भारत का निर्माण होगा.'

राम माधव, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव

अल जजीरा को दिए गए एक साक्षात्कार में राम माधव ने यह भी कहा कि ऐसा युद्ध नहीं बल्कि आम सहमति से भी हो सकता है. उधर, कांग्रेस ने कहा कि अपनी असफलताओं से ध्यान हटाने के लिए भाजपा की तरफ से ऐसे बयान आ रहे हैं.


'संसद की कार्यवाही का सीधा प्रसारण होता है. ऐसे में राहुलजी को विषयों पर व्यापक बात करनी चाहिए. एक लाइन बोलने से हमेशा काम नहीं चलता है. उन्हें लगातार 45 मिनट से एक घंटे तक बोलना चाहिए.'

पृथ्वीराज चव्हाण, कांग्रेस नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री

अपनी पार्टी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी को भाव-भंगिमाओं में सुधार का सुझाव देते हुए चव्हाण का यह भी कहना था कि विभिन्न मुद्दों पर लोग कांग्रेस के रुख को समझें, इसके लिए जरूरी है कि राहुल अपने भाषणों की तैयारी अच्छे से करें.


‘जिस परंपरा की शुरुआत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने की थी उसे आज का शासन, जिसमें पीएम मोदी और अन्य नेता शामिल हैं, बखूबी आगे बढ़ा रहे हैं.’

लाल कृष्ण आडवाणी, वरिष्ठ भाजपा नेता

हाल में अलग-अलग मसलों को लेकर पार्टी नेतृत्व पर सवाल उठाने वाले आडवाणी ने मोदी की अचानक पाकिस्तान यात्रा को एक सार्थक कदम बताया है.


'वह बैंकाक में बच गया, लेकिन उसकी मौत तय है. उसे तिहाड़ जेल में ही मार देंगे.'

छोटा शकील, अपराध सरगना दाऊद इब्राहिम का सहयोगी

बैंकाक में गिरफ्तारी के बाद भारत लाए गए अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन के बारे में शकील ने यह बात कही है. अखबार मेल टुडे से बातचीत में शकील ने दाऊद की बीमारी की खबरों का खंडन भी किया.


‘16 दिसंबर 2014 को पेशावर में हुए आतंकी हमले के पीछे मोदी का हाथ था. अपनी निजी दोस्ती के लिए ऐसे कातिल का स्वागत करके नवाज ने मुल्क का दिल दुखाया है.’

हाफिज सईद, आतंकी संगठन जमात उद दावा का मुखिया

नरेंद्र मोदी के अचानक पाकिस्तान दौरे से तिलमिलाए हाफिज ने यह मांग भी की है कि शरीफ को इसके बारे में देश को सफाई देनी चाहिए.


'मुझे आम तौर पर यही लगता है कि आपके मुखिया में ठीक-ठाक दमखम है. लेकिन फिर मैं देखता हूं कि मेरे बगल वाला 100 पाउंड्स उठा रहा है और तब मुझे अपने छोटेपन का अहसास होता है.'

बराक ओबामा, अमेरिकी राष्ट्रपति

आजकल वाशिंगटन से दूर हवाई में अमेरिकी सैन्य अड्डे पर 15 दिन की छुट्टियां बिता रहे ओबामा ने सैनिकों को संबोधित करते हुए यह बात कही. ओबामा जब भी यहां होते हैं तो नियमित तौर पर यहां के जिम में पसीना बहाते हैं.