अमेरिकी राष्ट्रपति पद के संभावित उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप ने देशवासियों से ऐपल कंपनी का बहिष्कार करने को कहा है. ट्रंप ने अमेरिका के नागरिकों से कहा है कि वे तब तक इस बहिष्कार को जारी रखें जब तक ऐपल सैन बर्नार्डिनो घटना में शामिल आतंकी का आईफोन अनलॉक नहीं कर देती है. दरअसल, पिछले साल नवंबर में कैलिफोर्निया के सैन बर्नार्डिनो क्षेत्र में हुए आतंकी हमले में मारे गए एक आतंकी का आईफोन पुलिस को मिला था और पुलिस अभी तक इस फोन के सिक्योरिटी सॉफ्टवेयर को अनलॉक करने में सफल नहीं हो पाई है. पुलिस ने एेपल से इस आईफोन के सिक्योरिटी सॉफ्टवेयर को तोड़ने को कहा था लेकिन कंपनी ने ऐसा करने से इनकार कर दिया. विवाद तब और बढ़ गया जब कैलिफोर्निया की एक अदालत ने ऐपल को फोन खोलने का आदेश दिया और कंपनी के सीईओ टिम कुक ने इसे भी मानने से इनकार कर दिया. इस मामले की अगली सुनवाई अब 22 मार्च को होगी.
इस मामले में ऐपल का कहना है कि अगर वह फोन को अनलॉक करती है तो यह उसके यूजर्स की निजता के नियमों के खिलाफ होगा. वहीं, मीडिया में आई खबरों के मुताबिक सैन बर्नार्डिनो की घटना को अपने चुनाव प्रचार में जमकर भुनाने वाले डोनाल्ड ट्रंप ने इस मामले को भी बड़ा चुनावी मुद्दा बनाने का फैसला किया है.
पाकिस्तान ने 40 भारतीय मछुआरों को पकड़ा
पाकिस्तान की समुद्री सुरक्षा एजेंसी ने गुजरात में अरब सागर से जखाऊ बन्दरगाह के नजदीक से 40 भारतीय मछुआरों को पकड़ लिया है. राष्ट्रीय मछली श्रमिक फोरम के सचिव मनीष लोधारी ने बताया कि गुरूवार रात को कुछ मछुआरे जखाऊ बन्दरगाह के नजदीक अंतराष्ट्रीय सीमा के करीब पहुंच गए थे. इसके बाद पाकिस्तानी नौसेना ने इन मछुआरों को उनकी सात नौकाओं के साथ पकड़ लिया. बता दें कि अरब सागर से भारतीय मछुआरों को पकड़ने की हाल के महीनों में यह तीसरी बड़ी घटना है. इससे पहले जनवरी में दो अलग-अलग घटनाओं में पाकिस्तान ने 14 नौकाओं सहित 62 भारतीय मछुआरों को पकड़ लिया था.
अमेरिका में वीजा रेट बढ़ने के एक महीने बाद ही सिलिकन वैली में कर्मचारियों की कमी हुई
अमेरिका में एच-1बी और एल-1 वीजा की फीस में भारी बढोत्तरी के एक महीने बाद ही वहां कर्मचारियों की कमी होने लगी है. खबरों के अनुसार कैलिफोर्निया में कंपनियों को अपनी जरूरत के हिसाब से योग्य कर्मचारी नहीं मिल पा रहे हैं. ऐसे में अमेरिकी कंपनी वेरितास सहित कई अन्य कंपनियों के सीईओ ने सरकार से वीजा कीमतों पर एक बार फिर से विचार करने को कहा है. वेरितास के सीईओ बिल कोलमैन का कहना है कि सारी सिलिकॉन वैली यही चाहती है कि सरकार वीजा नियमों पर फिर से विचार करे. कोलमैन के अनुसार अमेरिका में अच्छे लोगों की कमी है और वीजा रेट बढ़ने के बाद बाहर के लोगों ने अमेरिका की जगह अन्य देशों को तरजीह देना शुरू कर दिया है. इस कारण उद्योग को पर्याप्त संख्या में अच्छे लोग नहीं मिल रहे हैं और इससे वेतन आसमान छूता जा रहा है. बता दें, पिछले महीने अमेरिका ने एच-1बी वीजा की फीस में 4000 डॉलर और एल-1 वीजा की फीस में 4500 डॉलर की भारी बढ़ोत्तरी की थी. यह शुल्क उन कंपनियों पर लागू हुआ है जिनके जहां 50 या उससे अधिक कर्मचारी हैं और उनमें से 50 फीसदी से अधिक कर्मचारी अप्रवासी दर्जे के हैं.
ब्रेंडन मैकुलम ने अपने आखिरी टेस्ट मैच में सबसे तेज शतक जड़ा
न्यूजीलैंड के कप्तान ब्रेंडन मैकुलम ने अपने आखिरी 101 वें टेस्ट मैच में सबसे तेज शतक लगाने का विश्व रिकॉर्ड बनाया है. मैकुलम ने ऑस्ट्रेलिया के साथ क्राइस्टचर्च में खेले जा रहे सीरीज के दूसरे टेस्ट में सिर्फ 54 गेंदों पर शतक लगाया है. उन्होंने 21 चौकों और छह छक्कों की मदद से 145 रनों की शानदार पारी खेली. इससे पहले पहले यह रिकॉर्ड संयुक्त रूप से वेस्टइंडीज के महान खिलाड़ी विवियन रिचर्ड्स और पाकिस्तान के मिस्बाह उल हक के नाम था, जिन्होंने 56 गेंदों में 100 रन बनाए थे. मैकुलम जब बल्लेबाज़ी करने उतरे थे तो न्यूज़ीलैंड की टीम 32 रन पर तीन विकेट खोकर संघर्ष कर रही थी. लेकिन मैकुलम के शतक की बदौलत न्यूजीलैंड ने पहली पारी में 370 रनों का स्कोर बनाया है.