सीरिया में होम्स और दमिश्क में हुए बम धमाकों में कम से कम 150 लोग मारे गए हैं. सीरिया की सरकारी मीडिया एजेंसी के अनुसार राजधानी दमिश्क में हुए चार बम धमाकों में करीब 91 लोग मारे गए हैं. जबकि इससे पहले होम्स शहर में दो कारों में हुए धमाकों में 59 लोगों की मौत हुई है. दोनों ही हमलों की जिम्मेदारी आतंकी संगठन आईएस ने ली है. खबरों के मुताबिक ये दोनों हमले सीरिया के मुस्लिम अल्पसंख्यक शिया समुदाय को निशाना बनाते हुए किये गए हैं. दमिश्क में हुआ हमला शिया समुदाय के पवित्र तीर्थ स्थल सैयद ज़ैनब पर किया गया है. पिछले महीने भी यहां एक आतंकवादी हमला हुआ था जिसमें 59 लोगों की मौत हुई थी.
उधर, अमेरिका के विदेश मंत्री जॉन कैरी ने इन हमलों की निंदा की है. साथ ही उन्होंने जानकारी दी है कि सीरिया में आंशिक संघर्ष विराम के लिए रूस के साथ सहमति बन गई है. कैरी का कहना है कि अब उन्हें केवल विद्रोहियों से बात करनी है. बता दें कि इस महीने की शुरुआत में कई देशों ने सीरिया में एक हफ्ते के अंदर शांति बनाने और वहां राहत पहुंचाने का प्रण लिया था. लेकिन, रूस के दुविधाभरे रवैए के चलते इस मामले में अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा सका है.
फिजी में चक्रवात से भारी तबाही, मरने वालों की संख्या 20 तक पहुंची
फिजी में आए भीषण चक्रवात में मरने वालों की संख्या बढ़कर 20 हो गई है. फिजी की सरकारी समाचार एजेंसी एफबीसी ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा है कि उष्णकटिबंधीय चक्रवात विंस्टन में मारे गए अधिकतर लोग देश के पश्चिमी क्षेत्रों के रहने वाले हैं. यहां तूफ़ान का सबसे ज्यादा असर था. एफबीसी के मुताबिक इस तूफान में सैकड़ो मकान ध्वस्त हो चुके हैं और शहरों का ढांचा पूरी तरह बदल गया है. फिजी में यह चक्रवात शनिवार रात को आया था. एजेंसी मुताबिक इस दौरान 320 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से तूफानी हवाएं चली हैं. तूफान के पहले शुक्रवार को देश के यसवास द्वीपसमूह से सात मछुआरे समुद्र में गायब हो गए थे और फिजी सरकार ने उसी दिन लोगों को समुद्र तट से दूर रहने की चेतावनी जारी कर दी थी. चक्रवात के बाद देश में 30 दिन के लिए प्राकृतिक आपदा घोषित कर दी गई है.
अमेरिका में उबर के ड्राईवर ने अंधाधुंध गोलीबारी कर छह की जान ली
अमेरिका में एक बार फिर गोलीबारी की बड़ी घटना सामने आई है. यहां मिशिगन राज्य में एक सिरफिरे कैब ड्राईवर ने अंधाधुंध गोलीबारी कर छह लोगों की जान ले ली है. खबरों के मुताबिक शनिवार शाम को राज्य के कालामाजू शहर में 45 साल के ड्राइवर जैसन डाल्टन ने शहर में तीन जगह गोलीबारी की थी. सबसे पहले उसने एक रेस्तरां में चार लोगों की हत्या की फिर एक कार डीलर की दुकान पर बाप-बेटे को गोली मार दी. इन घटनाओं को अंजाम देने के बाद उसने एक अपार्टमेंट के बाहर एक महिला और एक 14 साल की लड़की को भी निशाना बनाया. फिलहाल इन दोनों की हालत गंभीर बनी हुई है. पुलिस ने उबर कैब के इस ड्राईवर को हिरासत में ले लिया है. बता दें कि अमेरिका में इस तरह की गोलीबारी की घटनाएं आम हैं और इसीलिए पिछले काफी समय से राष्ट्रपति बराक ओबामा बंदूक खरीदने के नियमों को सख्त बनाने की कोशिश में लगे हुए हैं.
ब्रिटेन में यूरोपीय संघ के लिए जनमत संग्रह से पहले कई नेता डेविड कैमरन के विरोध में सामने आए
भले ही ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने यूरोपीय संघ (ईयू) में अपने देश को विशेष दर्जा दिलाने के लिए समझौता कर लिया हो लेकिन, ब्रिटेन के नेता इसके विरोध में सामने आने लगे हैं. लंदन के मेयर और कंजरवेटिव पार्टी के प्रमुख नेता बोरिस जॉनसन ने कहा है कि वे इस मामले पर होने वाले जनमत-संग्रह में ब्रिटेन के ईयू से अलग होने का समर्थन करेंगे. कैमरन ने बीते शनिवार को घोषणा की थी कि 23 जून को जनमत-संग्रह में पूछा जाएगा कि देशवासी ब्रिटेन को यूरोपीय संघ में रखना चाहते हैं या नहीं. 28 सदस्यीय यूरोपीय संघ में बने रहने को लेकर कैमरन को ज्यादातर सांसदों का समर्थन हासिल है लेकिन, जॉनसन जैसे बड़े नेता के इस बयान को डेविड कैमरन के प्रयासों के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. इससे पहले ब्रिटेन के क़ानून मंत्री माइकल गोव ने भी ईयू से अलग होने का समर्थन करने के संकेत दिए थे.