आतंकी हमलों के बाद कोपेनहेगन में तैनात पुलिस
आतंकी हमलों के बाद कोपेनहेगन में तैनात पुलिस
डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगन में हुए दो अलग-अलग हमलों में दो लोगों की मौत हो गई है और पुलिसकर्मियों सहित कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. हमलावर फरार हैं. इनमें से पहली वारदात अभिव्यक्ति की आजादी पर हो रहे एक सेमिनार के दौरान हुई. इस आयोजन में स्वीडिश कार्टूनिस्ट लार्स विल्क्स भी शामिल थे जिन्हें पैगंबर मुहम्मद का कार्टून बनाने की वजह से जान से मारने की धमकियां मिल चुकी हैं. एक बंदूकधारी ने इस दौरान अंधाधुंध फायरिंग की. दूसरा हमला एक यहूदी पूजा स्थल पर हुआ. इसमें एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया जिसकी बाद में मौत हो गई. डेनमार्क की प्रधानमंत्री हेल थोर्निंग-स्मिट ने इसे आतंकवाद की कार्रवाई बताया है. दोनों हमलावरों की तलाश जारी है. गौरतलब है कि बर्बर आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के उदय और यूरोपीय देशों के हजारों युवाओं के उसमें शामिल होने के बाद यूरोप में ऐसे आतंकी हमलों की आशंका जताई जाती रही है. आईएस के लिए लड़ने के मकसद से बीते कुछ समय के दौरान डेनमार्क से करीब 200 युवा सीरिया और इराक जा चुके हैं.
बिना 'पोर्टफोलियो' वाले पहले मुख्यमंत्री बने केजरीवाल  पिछली बार 49 दिनों तक दिल्ली की सरकार का नेतृत्व करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कई अहम विभागों का जिम्मा संभाला था. लेकिन इस बार उन्होंने अपने पास एक भी विभाग नहीं रखा है. इसको लेकर आम आदमी पार्टी का तर्क है कि वे इस तरह सभी मंत्रियों और विधायकों पर ज्यादा निगरानी रख सकेंगे और लोगों के संपर्क में भी रह सकेंगे. इस लिहाज़ से देखा जाये तो बिना किसी विभाग के मुख्यंमंत्री बनने वाले वे पहले नेता हो गए हैं. केजरीवाल के इस निर्णय को लेकर मिली-जुली प्रतिक्रियाएं आ रही हैं. यह भी कहा जा रहा है कि इससे दिल्ली एक प्रकार से मनीष सिसौदिया के जिम्मे हो गई है जिनके पास सबसे महत्वपूर्ण और सबसे ज्यादा मंत्रालय हैं.
कोल ब्लाकों की नीलामी फिर शुरू  कोयला खदानों की नीलामी प्रक्रिया दोबारा शुरू हो गयी है. शनिवार को दो कंपनियों, जीएमआर तथा रिलायंस को दो कोल ब्लॉक आवंटित किये गए. इस नीलामी के जरिये जीएमआर को ओड़ीसा का तालाबीरा-1 और अनिल अंबानी के स्वामित्व वाले रिलायंस सीमेंट को मध्य प्रदेश के छिंदवाडा स्थित सियाल घोघरी कोयला खदान का आवंटन किया गया. गौरतलब है कि यूपीए सरकार के दौरान कोल ब्लाक के आवंटनों में भारी अनियमितताएं सामने आयीं थीं. इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने 204 आवंटनों को रद्द करते हुए सरकार को आदेश दिया था कि नीलामी नए सिरे से की जाये.
मोदी-पवार के बीच पक रही खिचड़ी आम चुनाव से लेकर महाराष्ट्र विधान सभा के चुनाव तक में शरद पवार को पानी पी-पी कर कोसने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अचानक उनकी तारीफ करके सबको चौंका दिया है. शरद पवार के गढ़ कहे जाने वाले बारामती में एक कार्यक्रम में मोदी ने उनकी जमकर तारीफ की. मोदी वहां कृषि विज्ञान केंद्र का उद्घाटन करने गए हुए थे. इस मौके पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि पवार ही एक मात्र विरोधी दल के नेता हैं, जिन्होंने पिछली सरकार के कार्यकाल में उनकी मदद की थी. इसके बदले में शरद पवार ने भी मोदी की शान में खूब कसीदे पढ़े. प्रधानमंत्री मोदी पवार के परिवार द्वारा चलाए जाने वाले एक शिक्षा संस्थान गए और उन्होंने उन्हीं के साथ दोपहर का खाना भी खाया. एक ऐसे समय में जब शिवसेना से भाजपा के संबंधों को मधुर नहीं कहा जा सकता, इन दोनों नेताओं की एक-दूसरे की इतनी तारीफ ओर नजदीकी को महाराष्ट्र की राजनीति के लिहाज से बेहद अहम माना जा रहा है.
'मन्नत' का अवैध हिस्सा हटाया गया आखिरकार फिल्म अभिनेता शाहरुख खान के बंगले मन्नत का अवैध हिस्सा गिरा दिया गया है. यह कार्रवाई मुंबई नगर महापालिका ने अंजाम दी. अधिकारियों के मुताबिक शाहरुख खान द्वारा बीएमसी की अंतिम चेतावनी को भी नजरअंदाज कर दिए जाने के बाद यह कार्रवाई की गई. दरअसल उनके बंगले के आस-पास रहने वाले लोगों ने शिकायत की थी कि शाहरुख ने अपने बंगले के बाहरी हिस्से में गलत तरीके से एक रैंप का निर्माण किया हुआ था, जिसके चलते लोगों को आने-जाने में दिक्कत हो रही है. इसको लेकर इस अभिनेता को कई बार कहा भी जा चुका था,लेकिन उन्होंने इसे जस का तस ही रहने दिया. आखिर में इस क्षेत्र की सांसद पूनम महाजन ने इस मामले में दखल दिया जिसके बाद इस रैंप को गिरा दिया गया.